कोरोना से बचाव के लिये हरसंभव प्रयास किये जाएंगे: मंत्री मीना सिंह
कोरोना से बचाव के लिये हरसंभव प्रयास किये जाएंगे: मंत्री मीना सिंह

भोपाल : जनजातीय कार्य मंत्री मीना सिंह ने कहा है कि कोरोना वायरस (ओमिक्रॉन वेरिएंट) संक्रमण दर के तीव्रता से वृद्धि होने के चलते जिले में विशेष सतर्कता और बचाव आवश्यक है। जनता के प्रति जबावदेही के मद्देनजर सबकी जान को सुरक्षित रखना हमारा कर्त्तव्य है। स्वास्थ्य सुविधाओं के लिये हर संभव सहयोग उपलब्ध कराया जाएगा। मंत्री सिंह ने जिला चिकित्सालय में स्थापित 500 एलपीएम क्षमता के ऑक्सीजन प्लांट को शीघ्र प्रारंभ करने के निर्देश दिए।

सिंह शुक्रवार को अनूपपुर में जिला क्राइसिस कमेटी के सदस्यों के साथ वर्चुअल मीटिंग को संबोधित कर रही थीं। अनूपपुर जिले की प्रभारी मंत्री सिंह ने कहा कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए कोविड जाँच को बढ़ाया जाना सुनिश्चित किया जाएँ। उन्होंने कहा कि कोविड संक्रमित व्यक्तियों की हिस्ट्री जानकर संबंधितों का भी टेस्ट करवायें। ज्यादा से ज्यादा कोविड जाँच होने से समय पर इलाज प्रारंभ कर संबंधितों की मॉनिटरिंग सुनिश्चित की जा सकती है। उन्होंने कमेटी के सदस्य जन-प्रतिनिधियों के सुझाव पर विचार कर जिले में मेला तथा हाट-बाजारों को प्रतिबंधित करने के निर्देश दिए। प्रभारी मंत्री सिंह ने कहा कि सक्रिय रहकर प्रशासन एवं पुलिस की संयुक्त टीम को जिले के सार्वजनिक स्थानों में रोको-टोको अभियान चलाकर लोगों को समझाईश दें तथा जुर्माने की कार्यवाही भी की जाए।

खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने कहा कि राज्य शासन ने कोविड संक्रमण की तीव्रता से वृद्धि को ध्यान में रखते हुए प्रसारित किये गये निर्देशों का अनूपपुर जिले में कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि दुकानदारों, उपभोक्ताओं सहित आम नागरिकों को अनिवार्य रूप से मास्क लगाने की मॉनिटरिंग सुनिश्चित की जाए। मंत्री सिंह ने कहा कि डीजल, पेट्रोल पम्पों में बिना मास्क के विक्रय प्रतिबंधित किया जाए। उन्होंने 15 से 18 वर्ष के बच्चों के कोविड वैक्सीनेशन के कार्य को प्राथमिकता के साथ सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। साथ ही अनूपपुर जिले की सीमा से लगे छतीसगढ़ प्रदेश से आने-जाने वालों की कोविड जाँच अनिवार्य रूप से हो। जिला, ब्लॉक और ग्राम स्तरीय क्राईसिस मैनेजमेंट कमेटियों को सक्रिय कर लोगों को जागरूक करने का कार्य किया जाए।

कलेक्टर सोनिया मीना ने बताया कि जिले में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को दुरूस्त किया गया है। वर्चुअल मीटिंग में आवश्यक व्यवस्थाएँ सुनिश्चित की गईं हैं। आगामी एक सप्ताह में 15 से 18 वर्ष के बच्चों का 90 प्रतिशत लक्षित वैक्सीनेशन सुनिश्चित कर लिया जायेगा। विधायक पुष्पराजगढ़ फुन्देलाल सिंह मार्को तथा जन-प्रतिनिधियों ने भी कोविड के संबंध में जन-जागरूकता तथा आवश्यक व्यवस्थाओं के संबंध में सुझाव दिए।

Share this story