नहीं मिल रही प्लांट में भर्ती मरीजों को ऑक्सीजन
नहीं मिल रही प्लांट में भर्ती मरीजों को ऑक्सीजन


गंजबासौदा। अस्पताल में बने ऑक्सीजन प्लांट का लोकार्पण सात अक्टूबर को किया गया था, लेकिन एक माह से अधिक समय गुजर जाने के बाद भी प्लांट का लाभ भर्ती मरीजों को अस्पताल में नहीं मिल रहा है। अभी भी ऑक्सीजन सिलेंडर व कानसेट्रेटर के माध्यम से ही मरीजों को ऑक्सीजन दी जा रही है। आखिरकार प्लांट से ऑक्सीजन देनी ही नहीं थी तो फिर लोकार्पण क्यों कराया गया। क्योंकि पूर्व में भी ऑक्सीजन कान्सट्रेटर या सिलेंडर के माध्यम से ही ऑक्सीजन दी जा रही थी और अब भी वही पुराने संसधनों का उपयोग किया जा रहा है जिससे शासन को अधिक रुपए भी चुकाने पड़ रहे हैं जबकि यदि प्लांट का लोकार्पण हो गया है तो वह प्लांट के आक्सीजन शुरु कर दें। जिससे शासन को सिलेंडर भरवाने ही न पड़े और प्लांट से ह मरीजों को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन प्राप्त हो सके।

मिली जानकारी के मुताबिक प्लांट शुरु हो गया है और लाइन बिछा भी ली गई है लेकिन लाइन बिछने के बाद भी अभी तक कनेक्शन नहीं हो सके हैं जिसके चलते प्लांट का उपयोग अभी तक शुरु नहीं हो सका है। यदि कनेक्शन हो जाते तो प्लांट का उपयोग शुरु होता और कुछ खामिया होती तो वह सामने निकलकर भी आ जाती। प्लांट बनकर तैयार है जो प्रति मिनट 500 लीटर ऑक्सीजन बनाने में सक्षम है, लेकिन इसकी क्षमता का पता तो तभी लगेगा जब प्लांट से ऑक्सीजन मरीजों को मिलने लगेगी। मशीनें नई हैं और उनका उपयोग यदि समय रहते होता है तो उनकी वस्तु स्थ्िति समझ आ जाएगी और उस गारंटी में उसकी मरम्मत हो जाएगी, लेकिन जिम्मेदार अधिकारी अभी तक प्लांट से ऑक्सीजन सप्लाई शुरु नहीं करा सके हैं। वहीं एक बात और समझ से परे है आखिरकार अब कौन से मुहूर्त का इंतजार हो रहा है, क्योंकि लोकार्पण तो अतिथियों के द्वारा पूर्व में ही कर दिया गया है। इस संबंध में बीएमओ रविन्द्र विदार का कहना है कि मरीजों की संख्या कम होने से ऑक्सीजन कन्संट्रेटर का उपयोग किया जारहा है।
अनिल पुरोहित/अशफाक

Share this story