CM चौहान सपत्नीक 457 दूल्हों की बारात लेकर पहुँचे सामूहिक विवाह सम्मेलन
CM चौहान सपत्नीक 457 दूल्हों की बारात लेकर पहुँचे सामूहिक विवाह सम्मेलन

भोपाल : मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान सपत्नीक सीहोर जिले के नसरुल्लागंज में आयोजित सामूहिक विवाह सम्मेलन में 457 दूल्हों की बारात को लेकर पहुँचे। मुख्यमंत्री  चौहान ने यहाँ कन्याओं के पूजन के साथ सामूहिक विवाह सम्मेलन का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री  चौहान ने सपत्नीक सभी दूल्हों का पुष्प वर्षा कर वर और वधू पक्ष के कर्त्तव्यों का एक साथ निर्वहन किया। मुख्यमंत्री  चौहान मंडी परिसर से लेकर महाविद्यालय प्रांगण तक लगभग 2 किलोमीटर के रास्ते में बारातियों के साथ नाचते हुए पहुँचे।

मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि सभी बेटियों के सुखमय वैवाहिक जीवन के लिए हर संभव मदद की जाएगी। उन्होंने सभी जोड़ों को शुभकामनाएँ दी। उन्होंने कहा कि सभी बेटियाँ मेरी भांजी हैं। इस रिश्ते से यहाँ आए सभी दूल्हे मेरे दामाद हैं। इसलिए मैंने सभी दूल्हों का फूल बरसाकर स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि पूरा नसरूल्लागंज बराती और घराती बना हुआ है और पूरा नसरुल्लागंज मंडप जैसा सजा है। यह एक मनोरम और बहुत ही अद्भुत नजारा है। मुख्यमंत्री  चौहान ने उनकी सराहना की जिन्होंने दूल्हा-दुल्हन को अपनी तरफ से भी गिफ्ट दिए। उन्होंने कहा कि आज से पूरे प्रदेश में सामूहिक विवाह सम्मेलन प्रारम्भ हो गए हैं। आज 457 बेटा-बेटियों की शादी हो रही है। यहाँ 46 बेटियों का निकाह भी हो रहा है। मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि अब मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना में राशि बढ़ाकर 55 हजार कर दी गई है, जिसमें 11 हजार रूपये बेटी के खाते में जमा किये जा रहे हैं। साथ ही गृहस्थी का जरूरी सामान दिया जा रहा है। इसमें LED टीवी, सीलिंग फेन, साड़ियाँ, मेकअप बॉक्स, आभूषण, कुकर और बर्तन सेट शामिल है।  चौहान ने कहा कि सभी जोड़ों को पलंग भी दिया जाएगा।

इस मौके पर मुख्यमंत्री चौहान के मुँह से सहज ही भावुकतावश "बाबुल की दुआएँ लेती जा, जा तुझको सुखी संसार मिले" गीत निकल गया। उन्होंने कहा कि सभी माता-पिता से कहता हूँ कि अपनी बेटियों की चिंता न करें, बेटियों के विवाह की सारी जिम्मेदारी मामा पूरी करेगा।

बारातियों का हुआ भव्य स्वागत

सामूहिक विवाह सम्मेलन स्थल पर बारात पहुँचने पर दूल्हे और बारातियों का तिलक लगाकर और फूलमाला पहनाकर स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान और  साधना सिंह ने भी पुष्प वर्षा कर सभी दूल्हों का स्वागत किया। 

साथ सम्पन्न हुआ विवाह

पुरोहित द्वारा मंत्रोच्चार के साथ विवाह संस्कार सम्पन्न कराया गया। सभी वर-वधु द्वारा एक-दूसरे को वरमाला पहनाने और सात फेरों के साथ ही विवाह सूत्र में बंध गए। मुख्यमंत्री  चौहान और पत्नि  साधना सिंह ने वर-वधुओं को नवदाम्पत्य जीवन  की शुभकामनाएँ दीं। 

उपहार सामग्री का वितरण

मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना में हुए विवाह सम्मेलन में प्रति हितग्राही बेटी को 55 हजार रूपए के प्रावधान में 6 हजार रूपये विवाह आयोजन व्यय के साथ वधु को 38 हजार रूपए की सामग्री एवं 11 हजार रूपए का चेक दिया गया।

दिव्यांग जोड़े को तीन लाख रूपये

कन्या विवाह सम्मेलन मे मुख्यमंत्री  चौहान ने दिव्यांग जोड़े अंसार खान और रिजवाना को तीन लाख रुपये देने की घोषणा की। इसमें दो लाख रूपये योजना में तथा एक लाख रूपये अपनी ओर से देने की घोषणा की। सांसद  रमाकांत भार्गव तथा प्रभारी मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने भी संबोधित किया और वर-वधू को शुभ आशीष दिया।

Share this story