मुख्य वन संरक्षक ने किया नरवा विकास योजना, फूड ग्रेड महुआ संग्रहण कार्य सहित विभिन्न गतिविधियों का निरीक्षण
मुख्य वन संरक्षक ने किया नरवा विकास योजना, फूड ग्रेड महुआ संग्रहण कार्य सहित विभिन्न गतिविधियों का निरीक्षण

रायपुर :  वन एवं जलावायु परिवर्तन मंत्री  मोहम्मद अकबर के दिशा-निर्देशानुसार सरगुजा वन वृत्त के मुख्य वन संरक्षक अनुराग श्रीवास्तव ने 16 और 17 अप्रैल को जशपुर वनमण्डल का भ्रमण कर वहां फूड ग्रेड महुआ संग्रहण, नरवा विकास के कार्याे के साथ विभिन्न गतिविधियों का जायजा लिया। उन्होंने जशपुर वनमण्डल के परिक्षेत्र मनोरा अन्तर्गत बिरला से अजधा वनमार्ग 02 कि. मी. डब्ल्यू.बी.एम. सड़क निर्माण कार्य का निरीक्षण किया। मनोरा क्षेत्र में उन्होंने कूप विदोहन कार्य में लगे वन विभाग के अमले को कूप विदोहन से सम्बन्धित तकनीकी पहलुओं की जानकारी दी। साथ ही लॉगिंग प्लान के तकनीक के बारे में विस्तार से क्षेत्रीय अमले को बताया गया।

मुख्य वन संरक्षक ने वन परिक्षेत्र दुलदुला अन्तर्गत हो रहे फूड ग्रेड महुआ संग्रहण कार्य का निरीक्षण किया। उन्होंने ग्राम कांटासारू में महुआ वृक्षों के नीचे लगे नेट का निरीक्षण कर समूह को बताया कि इस विधि से उच्च क्वालिटी का महुआ संग्रहण किया जा सकता है। इसके पश्चात् ग्राम बंगुरकेला पहुंचकर उन्होंने वहां लगे महुआ ड्रायर का निरीक्षण किया तथा वहां काम कर रहे ग्रामीणों को साफ-सफाई रखकर उच्च क्वालिटी का महुआ संग्रहण करने के निर्देश दिए। जशपुर वनमंडल के परिक्षेत्र तपकरा में  श्रीवास्तव ने लेन्टाना से फर्नीचर निर्माण कार्य का निरीक्षण किया तथा महिला स्व सहायता समूह को आवश्यक दिशा निर्देश दिए एवं उनका उत्साह-वर्द्धन किया।

मुख्य वन सरंक्षक श्रीवास्तव द्वारा हथिबेड परिसर में नरवा विकास योजना 2021 -22 के तहत कोचनीडीह नाला में निर्मित 30-40 मॉडल का निरीक्षण किया गया और क्षेत्र में महुआ एवं अन्य फलदार पौधों के रोपण हेतु निर्देश दिया गया। उन्होंने नरवा विकास योजना 2020-21 के तहत बरिकजोर नाला में मिट्टी बांध का निरीक्षण किया। उनके द्वारा तालाब और मिट्टी बांध में आने वाले बड़े पेड़ जो पानी मे डूब जाते हैं, उन्हें मिट्टी के मोल्ड बनाकर सुरक्षित रखने हेतु निर्देशित किया। इसके पश्चात मुख्य वन संरक्षक ने कूप 1 कंपार्टमेंट नं. 898 का निरीक्षण किया, जिसमें उपचार मानचित्र संबंधित निर्देश उपस्थित स्टाफ को दिया गया।

Share this story