नसरूल्लागंज से हुई मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना की पुन: शुरूआत
नसरूल्लागंज से हुई मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना की पुन: शुरूआत

भोपाल :  मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान की महत्वाकांक्षी "कन्या विवाह योजना" का आज सीहोर जिले के नसरूल्लागंज से पुन: आगाज हुआ। मुख्यमंत्री  चौहान ने धर्मपत्नी  साधना सिंह के साथ सामूहिक बारात की अगवानी की। योजना के पहले आयोजन में 457 दुल्हे राजाओं की एक साथ बारात निकली। बारात की अगवानी के समय मुख्यमंत्री चौहान के साथ सीहोर जिले के प्रभारी मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी और सांसद  रमाकान्त भार्गव भी चल रहे थे। नसरूल्लागंज के मंडी प्रांगण से शादी समारोह स्थल की दूरी एक किलोमीटर है। बारात वाले रास्ते को अति सुन्दर सजाया गया था, जो देखने लायक था। बारात के रास्ते में जगह-जगह स्वागत द्वार बनाये गये थे। नसरूल्लागंज में महिलाओं, बच्चों और बड़े जन-समुदाय द्वारा उत्साहपूर्वक पुष्प-वर्षा कर बारात का भव्य स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने बारात में खुली जीप में फूलों की वर्षा कर जनता का अभिवादन किया।

बारात में नरसिंहगढ़ का प्रसिद्ध बैंड शामिल किया गया था। बैंड की आवाज सुनकर घोड़े भी नाच रहे थे। बारात का यह दृश्य बहुत अद्भुत और अविस्मरणीय लग रहा था। बारात के स्वागत के लिए भव्य आतिशबाजी हो रही थी। बारात में दुल्हे राजाओं के रिश्तेदारों और नसरूल्लागंजका बड़ा जन-समुदाय भी शामिल हुआ था, जो नृत्य करते हुए बारात की शोभा बढ़ा रहे थे। जिला प्रशासन द्वारा सभी दुल्हों को सरल क्रमांक दिये गये थे, जो दुल्हन की वेदी पर भी अंकित किये गये थे। इससे बारात आगमन पर दूल्हों को किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं हुई।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा आज नसरूल्लागंज से मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना पुन: प्रारंभ की गई। योजना में कन्या को 55 हजार की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। इसमें 38 हजार रूपये का गृहस्थी का सामान, 11 हजार रूपये का चैक और अन्य व्यवस्थाओं के लिए 6 हजार रूपये की राशि शामिल है।

Share this story