क्षय उन्मूलन अभियान में मध्यप्रदेश देश में नंबर वन
क्षय उन्मूलन अभियान में मध्यप्रदेश देश में नंबर वन

भोपाल : वर्ष 2025 तक क्षय उन्मूलन  के लक्ष्य  प्राप्ति के लिए हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर  24 मार्च से 13 अप्रैल तक  संचालित किए जा रहे क्षय (टीवी) उन्मूलन महाअभियान में मध्यप्रदेश, देश में नंबर वन है। आयुष्मान भारत के चौथे वार्षिक दिवस 16 अप्रैल को वर्चुअल कार्यक्रम में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने मध्यप्रदेश को 5 करोड़ से अधिक जनसंख्या वाले राज्यों की श्रेणी में नंबर वन घोषित कर प्रमाण-पत्र दिया।

केंद्र  सरकार द्वारा अभियान की समीक्षा की जा रही है। देश के समस्त राज्यों से प्राप्त रिपोर्टिंग एवं आंकड़ों के आधार पर राज्यों को सम्मानित किया गया। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मांडविया ने देश में 5 करोड़ से अधिक जनसंख्या वाले  राज्यों में  मध्यप्रदेश को प्रथम स्थान मिलने पर बधाई दी। 

कार्यक्रम में वर्चुअली  शामिल हुए प्रदेश के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने क्षय उन्मूलन अभियान से जुड़े स्वास्थ्य विभाग के सभी अधिकारी-कर्मचारियों को इस उपलब्धि पर  बधाई दी है।  

डॉ. चौधरी ने कहा कि  केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा विश्व क्षय दिवस के उपलक्ष्य में क्षय उन्मूलन  अभियान प्रारंभ  किया था। अभियान में  प्रदेश के समस्त हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर टीबी जाँच, उपचार की सुविधाएँ प्रारंभ की।  क्षय रोगियों को उच्च-स्तरीय जाँच एवं निदान सुविधा उपलब्ध कराई गई। अभियान में  प्रदेश के सभी जिलों में युद्ध स्तर पर कार्य किया जाकर  2 लाख 42 हजार 987 मरीजों की जाँच की गई।  खोजे गए 81% क्षय  रोगियों को निक्षय पोषण योजना का लाभ उपलब्ध करवाया गया। 

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि प्रदेश के लिए बड़े गर्व की बात है कि मध्यप्रदेश स्वास्थ्य के क्षेत्र में राष्ट्रीय स्तर पर निरंतर उपलब्धि हासिल कर रहा है। उन्होंने कहा कि  पिछले माह विश्व क्षय दिवस के उपलक्ष में  सब नेशनल सर्टिफिकेशन में  प्रदेश के 2 जिले पुरस्कृत हुए थे। उन्होंने कहा कि राज्य को राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कृत होने से  राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम से जुड़े सभी अधिकारी-कर्मचारियों को प्रोत्साहन मिला है। उन्होंने कहा कि  वर्ष 2025 तक क्षय उन्मूलन के लक्ष्य को निश्चित  प्राप्त करेंगे।

Share this story