महिला स्व सहायता समूह कर रहा खीरा विक्रय कर हजारों की आमदनी
महिला स्व सहायता समूह कर रहा खीरा विक्रय कर हजारों की आमदनी

सूरजपुर :  शासन की महत्वकांक्षी योजना नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी विकास अंतर्गत गौठान में बाड़ी विकास के माध्यम से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को नई दिशा मिल रही है। गौठनों के बाड़ी में विभिन्न प्रकार के सब्जियों का उत्पादन कर स्व-सहायता समूह की महिलाएं आर्थिक रूप से सशक्त हो रहे हैं। कलेक्टर डॉ. गौरव कुमार सिंह एवं जिला पंचायत सीईओ  राहुल देव के निर्देशन एवं मार्गदर्शन में जिले के गौठानों में बाड़ी विकास सहित अन्य बहुउद्देशीय रोजगार मूलक गतिविधियां कराया जा रहा है। जिससे स्थानीय महिला स्व-सहायता समूह को आर्थिक दृष्टिकोण से सहायता प्राप्त हो रहा है।


         जनपद पंचायत प्रतापपुर के ग्राम पंचायत खड़गवां कला गौठान में करमडार महिला स्व-सहायता समूह द्वारा खीरा 12 हजार रुपए एवं मूली और पालक भाजी 6 हजार रुपए का दो दिवस के अंदर बेचा गया है। समूह की अध्यक्षा  कंचन ने बताया कि मूली एवं पालक भाजी गौठान के बाड़ी में लगभग 1 एकड़ में लगाया गया है जोकि हर दो दिवस के अंदर निकल रहा है। बाड़ी में लाल भाजी, टमाटर, धनिया, प्याज भी लगाया गया है।

Share this story